Header Ads Widget

Responsive Advertisement

Ticker

10/recent/ticker-posts

प्रदेश में रोका छेका के बाद भी लोगों का सामान खा रही है आवारा मवेशी

बालोद। प्रदेश सरकार की कोरोना काल में वैभव प्रदेश की अनुभूति प्रदान करने वाली धरातल की अनोखी योजना जिसे प्रदेश सरकार की "नरवा-गरवा, घुरवा-बाड़ी" योजना के दायरे में समाहित कर प्रदेश में आवारा घूम कर किसानों के फसलों के साथ लोगों की सामानों को हजम करने वाले मवेशियों से निजात दिलाने के लिए रोका-छेका की कार्य सरकार ने शुरू की है जिसकी जानकारी शायद प्रदेश के आवारा मवेशियों को नहीं है जिसके चलते प्रदेश में आवारा मवेशी आज भी किसानों के फसलों को चौपट कर रही है और बीच बाजार में लोगों का सामान भी खा रही है।

आपको बता दें की प्रदेश सरकार और कांग्रेस पार्टी ने रोका छेका कार्य को ग्रामीण भारत के विकास में एक अनोखी योजना जो सभ्यता और संस्कृति से जोड़ते हुए इस कार्य के लिए प्रदेश के जनता की खुब वाहवाही लुटी है जिसकी बानगी विडीयो में साफ देखा जा सकता है ।

यह विडियो प्रदेश सरकार की केबिनेट मंत्री अनिला भेड़िया के गृह नगर डौंडीलोहारा की बताई जा रही है, जो की सोशल मीडिया में वायरल है।
विनोद नेताम पत्रकार    
 पुरुषोत्तम पात्र के विरुद्ध एसपी से भी की गई शिकायत , एफआईआर दर्ज करने की मांग