Header Ads Widget

Responsive Advertisement

Ticker

10/recent/ticker-posts

सनौद से गुरूर मार्ग के दुकानदार कर रहे हैं शराब की अवैध बिक्री-तस्करी।

बालोद। जिला में पिछले कई दिनों से अवैध शराब तस्करी की मामले लगातार बढ़ती ही जा रही एक ओर जहां कोरोना के मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा देखा जा राहा है ठीक उसी तरह से अवैध शराब तस्करी कर मधु प्रेमीयो को मंहगे दामों पर बेच कर मनमाफीक मुनाफा कमाया जा रहा है। जिला के गुरूर विकासखंड क्षेत्र, जो पिछले काफी समय से सट्टा, गांजा, जुआ, अवैध शराब तस्करी का हाटस्पाट बनकर लोगो अवैध सेवा का अवसर प्रदान कर रहा है। आपको बता दें कि पूरे विकासखंड क्षेत्र में इन दिनों अवैध रूप से खुलेआम गांजा, शराब, सट्टा, जुआ कारोबार अपनी मदमस्त जवानी दिखाती हुई चरम पर है तो वहीं इसके चाहने वाले नाचीज नमुनो की भी कोई कमी नहीं है। 


सुत्रो की मानें तो गुरूर विकासखंड क्षेत्र के राजनीति की रास्ता इन दिनों इन्ही गलियों के रास्ते से होकर गुजरती है जिसके चलते आम आदमी का इन रास्तों से  गुजरना मुहाल हो गया है, वो तो गनीमत है पुलिस के जांबाज जवानों का जो देर सवेर इन रास्तों पर चलने की हिम्मत रखते हैं और अवैध कारोबार से जुड़े पाप के महानायकों को सलाखों के पीछे भेजने में हिचकिचाते नहीं है। पिछले दिनों जिला के एक दमदार युवा नेता ने इन गलियों में छान मारकर कार्यवाही करने वाले जांबाज तक को नौकरी खा जाने की धमकी दे डाली है, फिर भी बालोद पुलिस के जांबाज दिन-रात एक कर कोरोना के रोकथाम से लेकर अपराध को कम करने की दिशा में काम कर रही है जिसके बाद भी कुछ घटीया किस्म के कमजोर मानसिकता के दुश्मनों ने इन गलीयो को अपना आशीयाना बनाकर लोगों को जमकर लुट रहे हैं। 

पुलिस कार्यवाही लगातार कर रही है, लेकिन इसके बाद भी इन अपराधों पर नकेल नहीं कसा जा सका है। गुरूर विकासखंड क्षेत्र के गंगोरीपार निवासी नरेंद्र निषाद जो अपने दुकान पर खुलेआम शराब का सेवन करता है और दुसरो को भी करता है वह हाईवे क्राइम टाइम के संवाददाता विनोद नेताम से फोन पर बात करते हुए प्रदेश के गृहमंत्री ताम्रध्वज साहु के दुघेरा गृहग्राम बासीन में अवैध सट्टा संचालित करने के संबंध में बात कही है। नरेंद्र निषाद ने जिला के वरिष्ठ प्रत्रकार के नागे को भी इस बात की जानकारी है। यह बात भी नरेंद्र निषाद ने कहा है सोंचने वाली बात है कि जब इनको इस तरह के अवैध कारोबार संचालित करने की खबर है तो ऐसे लोग पुलिस प्रसाशन के पास जाकर शिकायत दर्ज कराने के बजाय अपनी मोबाइल को हमारे मोबाइल के घंटियों में जोड़कर अवैध सट्टा कारोबार पर रोक लगाने की मांग करते हैं। सूत्रों की मानें तो कुछ तथाकथित पत्रकारों के सहायता से नरेंद्र निषाद सट्टा-पट्टी लिखने की फिराक में बाट जोहे बैठा हुआ है।

join us @Whatsapp 
https://chat.whatsapp.com/GVnF6yWCm913iuTQOo2HP0
 पुरुषोत्तम पात्र के विरुद्ध एसपी से भी की गई शिकायत , एफआईआर दर्ज करने की मांग