Header Ads Widget

Responsive Advertisement

Ticker

10/recent/ticker-posts

नरदहा के अनिल टण्डन ने पेश की सेवाभाव की अनूठी मिसाल।

रंग
। जनपद पंचायत आरंग के अंतर्गत ग्राम पंचायत नरदहा के उपसरपंच अनिल टण्डन कोरोना संक्रमितों को अब तक एम्स मेकाहारा आयुर्वेदिक हॉस्पिटल विहान हॉस्पिटल समर्पण गायत्री लक्ष्मीनारायण गौतम हॉस्पिटल में एडमिशन से लेकर अंतिम संस्कार तक कि सफर में मंत्री एस डी एम तहसीलदार व मुक्तांजलि जिला प्रभारी से सतत सम्पर्क रखकर आवश्यकतानुरूप हरसम्भव मदद पहुचना दवाई से लेकर सारे टेस्ट रिपोर्ट तक खुद ही साथ रहकर व्हील चेयर तक किसी कोरोना पीड़ित परिवार जानकारी के अभाव में कोई भटक न जाये इसलिए अभी तक 40 परिवारों के लिए भटकाव से बचने साथ खड़े रहने वाले अनिल टण्डन अपने जेब से खर्च करने के साथ-साथ बीते एक माह से परिवार को छोडकर 24 घण्टे अपने चारपहीये वाहन के साथ कोरोना परिवार पीड़ित की सेवा में डटे हुए है।

कोरोना के संक्रमणकाल में जिस तरह लोग भयभीत थे संक्रमित की जानकारी मिलते ही लोग कोसो भागते है ऐसे वक्त में निर्भीक रहकर मानवता की सेवा में जुटे योद्धाओं की कोई कमी नही थी जिन्होंने मानव सेवा का मिसाल कायम किया ऐसे ही योद्धाओं में अनिल टण्डन का जुनून कोरोना काल मे देखने लायक है।ऐसे संकट की घड़ी में वह कोरोना से बिना डरे सहमे मरीजो की सहायता के लिए अपने कर्तव्य पथ पर आगे बढ़ते जा रहे है। अनिल टण्डन संवेदनशील क्षेत्रों में भी  जाकर कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की सहयोग करने में हमेशा आगे रहते  है। अनिल टण्डन ने ठान लिया  है कि जब तक यह संक्रमण पूरी तरह खत्म नहीं हो जाता,तब तक  किसी भी  परिस्थिति में कोरोना से पीड़ित का सहयोग करते रहेंगे।इसी प्रकार कोरोना पीड़ित परिवार की विषम परिस्थितियों के साथ कोरोना युद्ध में अहम उनका हौसला बढ़ते ही जा रहा  है। अनिल टण्डन ने प्रेस से चर्चा करते हुए बताया  की सेवा करना, लॉकडाउन में फँसे हुए लोगों को राहत पहुँचाना, किसी व्यक्ति का उनके प्रयासों से स्वस्थ होना, ऐसे मानवीय कार्य से उन्हें मानसिक शांति मिलती है

कोरोना वारियर्स के रूप में अनिल टंडन अहम भूमिका निभा रहा है, ग्रामीण क्षेत्रों में इस महामारी के प्रति लोगों को जागरूक करना, संसाधन मुहैया कराना, मरीजों को अस्पताल तक ले जाने से लेकर जांच रिपोर्ट, भर्ती कराना, दवाईयां, डाक्टरों से सामंजस्य बनाना, ठिक होने के बाद छुट्टी कराकर घर तक पहुंचाने के कार्य में निरंतर लगें हुए हैं। इस माहौल में संक्रमित होने का खतरा बना रहता है, फिर भी घर परिवार की चिंता छोड़ लोगों की सेवा में डटे हुए हैं। अनिल टंडन युवा समाजसेवी के जज्बे को सलाम और इस पुनीत कार्य के लिए सराहना करते हैं।

देव हीरा लहरी चंदखुरी रायपुर, युवा साहित्यकार व समाजसेवी

आप जरूरत मंद की सेवा में अपने दिन रात एक कर दिया कुछ  लोग तो  दूर  भागते है पर आपने कोरोना संक्रमित परिवार  दिन रात सहायता कर रहे है काबिले तारीफ है बाबा जी  की कृपा आप पर बनी रहे  आप हमेशा स्वस्थ रहे खुश रहे भैया जी।

ट्रास भारती पचेड़ा, सामाजिक कार्यकर्ता।






नगर पंचायत मगरलोड में चला बेंच टेबल खरीदी में घोटाला।